Categories
Laser Hair Removal

लेज़र हेयर रिमूवल की प्रक्रिया को कैसे किया जाता है? जाने एक्सपर्ट्स से क्या है सही तरीका

लेज़र हेयर रिमूवल एक ऐसी चिकित्सा प्रक्रिया है, जिसमे अनचाहे बालो को हटाने के लिए लेज़र प्रक्रिया का उपयोग किया जाता है | इस प्रक्रिया के दौरान लेज़र जैसे प्रकाश निर्वहन के माध्यम से बालों की पिग्मेंट या फिर मेलेनिन को अवशोषित कर दिया जाता है | आइये एक्सपर्ट्स द्वारा इसकी पूरी प्रक्रिया को समझते है :- 

डॉ वीजेएस कोस्मेटोलॉजी क्लीनिक के सर्जन कंसलटेंट डॉक्टर अनुषा ने अपने यूट्यूब चैनल में पोस्ट एक वीडियो के माध्यम से यह बताया की लेज़र हेयर रिमूवल एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे लेज़र की सहायता से बालों की रोम को नुकसान पहुंचाया जाता है, जिसकी वजह से बालों के विकास को विलंबित कर दिया जाता है | लेज़र के प्रकाश से निकलने वाली ऊर्जा गर्मी में परिवर्तित हो जाती है, जो शरीर के त्वचा के अंदर बने ट्यूब के आकार की थैलियों जिसे बालो की रोम भी कहा जाता है, उससे क्षति पहुंचने का कार्य करती है | 

 

आमतौर पर इसका काम स्थायी रूप से बालों को हटना नहीं होता, हलाकि लेज़र हेयर रिमूवल की बाद लम्बे समय तक प्रभावी ढंगों से बालों के विकास को रोका जा सकता है | शुरूआती बालो को हटाने के लिए लेज़र हेयर रिमूवल के साथ-साथ सुरक्षित उपचारों की आवश्यकता भी होती है | लेज़र हेयर रिमूवल प्रक्रिया सबसे ज्यादा प्रभावी उन लोगों में होती है, जिनकी त्वचा का रंग गोरा और बाल का रंग काला होता है, लेकिन अब इसका उपयोग सभी तरह के त्वचा पर सफलतापूवर्क किया जा सकता है | 

डॉक्टर अनुषा ने यह भी बताया की जब बालों और त्वचा का रंग एक समान होता है तो त्वचा पर नुकसान पहुंचने का जोखिम खतरा बढ़ जाता है, लेकिन लेज़र हेयर रिमूवल में आये प्रगति की वजह से अब गहरे रंग के त्वचा के लोग इस विकल्प का चुनाव कर सकते है | आइये जानते है इसके होने वाले जोखिम कारक के बारे में :- 

लाज़र हेयर रिमूवल से होने वाले जोखिम कारक क्या है ?   

त्वचा में जलन होना :- लेज़र हेयर रिमूवल करवाने के बाद अस्थायी रूप से असुविधा, लालिमा और सूजन होना संभव है, लेकिन किसी भी तरह का संकेत और लक्षण आमतौर पर कुछ ही घंटों में गायब हो जाता है | 

त्वचा के पिग्मेंट में परिवर्तन होना :- लेज़र हेयर रिमूवल करने के बाद प्रभावित क्षेत्र का रंग गहरा और हल्का हो सकता है | यह परिवर्तन स्थायी और अस्थायी दोनों रूप से हो सकता है | त्वचा के रंग हल्का उन लोगो का होता है जो उपचार से पहले या फिर बाद में धुप में निकलने से नहीं बचते और जिनकी त्वचा का रंग गहरा होता है | 

इससे जुड़ी कोई भी जानकारी के लिए आप डॉ वीजेएस कोस्मेटोलॉजी क्लीनिक नामक यूट्यूब चैनल पर विजिट कर सकते है, इस चैनल में इस विषय पर पूरी जानकारी के साथ वीडियो बनाकर पोस्ट की हुई है | यदि आप लेज़र हेयर रिमूवल उपचार करवाने में रूचि रखते है तो इसके लिए भी आप डॉ वीजेएस कोस्मेटोलॉजी क्लीनिक से परामर्श कर सकते है | इस संस्था के सर्जन कंसलटेंट डॉक्टर अनुषा कॉस्मेटोलॉजिस्ट में स्पेशलिस्ट है,जो आपको इस विषय के बारे में पूरी जानकारी दे सकते   है |